অসম আদিত্য - দেশ-জাতিৰ অতন্দ্ৰ প্ৰহৰী
শেহতীয়া খবৰ
हवाई ईंधन की कीमत में फिर 5% की बढ़ोतरी, अब हवाई सफर करना होगा महंगा-कोरोना महामारी से निपटने के लिए किम जोंग उन करने वाले हैं सेना का इस्तेमाल-कोरोना महामारी से निपटने के लिए किम जोंग उन करने वाले हैं सेना का इस्तेमाल-असम में कैंसर सेंटरों के उद्घाटन पर बोले रतन टाटा-असम दौरे पर पहुंचे पीएम मोदी, सात कैंसर अस्पतालों का करेंगे उद्घाटन-असम दौरे पर पहुंचे पीएम मोदी, सात कैंसर अस्पतालों का करेंगे उद्घाटन-विश्व मलेरिया दिवस-दुनिया का रक्षा खर्च 20 खरब डॉलर के पार पहुंचा, भारत भी टॉप 3 में शामिल-जापान में एक टूरिस्ट बोट डूबने से 11 यात्रियों की मौत-नाइजीरिया की अवैध तेल रिफाइनरी में धमाका, 100 से ज्यादा लोगों की मौत

अरुणाचल में 7 सैनिकों के शव बरामद, दो दिन पहले हुआ था भारी हिमस्खलन

0

अरुणाचल प्रदेश के कामेंग सेक्टर में ऊंचाई पर स्थित इलाके में हिमस्खलन होने से उसमें भारतीय सेना के सात जवान फंस गए थे उनके शव बरामद कर लिए गए हैं. सेना ने आज एक बयान में यह जानकारी दी. फंसे हुए जवानों का पता लगाने के लिए तलाश और बचाव कार्य शुरू किया गया था. सैन्यकर्मी एक गश्ती दल में शामिल थे जो कि रविवार को आए हिमस्खलन में फंस गया था.

हिमस्खलन की घटना के बाद तलाश और बचाव कार्य शुरू किया गया. राहत कार्य में सहायता के लिए विशेषज्ञों के दल को हवाई मार्ग से पहुंचाया गया था. इलाके में पिछले कुछ दिन से मौसम खराब है और भारी बर्फबारी हो रही है.

सेना ने कहा कि खराब मौसम में हिमस्खलन और ऊंचाई वाले कामेंग सेक्टर में बर्फबारी के बीच गश्ती दल फंस गया था.

सेना ने एक बयान में कहा, दुर्भाग्य से इसमें शामिल सभी लोगों के सर्वोत्तम प्रयासों के बावजूद, सभी सातों जवानों की मौत की पुष्टि हो गई है.

सेना ने कहा कि “14,500 फीट की ऊंचाई पर स्थित क्षेत्र में पिछले कुछ दिनों से भारी बर्फबारी के साथ खराब मौसम देखा जा रहा था. सैनिकों के शवों को आगे की औपचारिकताओं के लिए हिमस्खलन स्थल से निकटतम सैन्य चिकित्सा सुविधा में भेजा जा रहा है.”

सैनिक नियमित रूप से अरुणाचल प्रदेश के ऊंचे इलाकों में गश्त पर जाते हैं और खराब मौसम के दौरान हिमस्खलन एक बड़ा जोखिम होता है.

Leave A Reply

Your email address will not be published.