অসম আদিত্য - দেশ-জাতিৰ অতন্দ্ৰ প্ৰহৰী
শেহতীয়া খবৰ
110 देशों में बढ़ा Corona और Omicron Virus पर नज़र रखना हुआ मुश्किल-चंडीगढ़ में 2 दिन की बैठक आज से, पेट्रोल-डीजल GST में लाने पर चर्चा संभव-हवाई ईंधन की कीमत में फिर 5% की बढ़ोतरी, अब हवाई सफर करना होगा महंगा-कोरोना महामारी से निपटने के लिए किम जोंग उन करने वाले हैं सेना का इस्तेमाल-कोरोना महामारी से निपटने के लिए किम जोंग उन करने वाले हैं सेना का इस्तेमाल-असम में कैंसर सेंटरों के उद्घाटन पर बोले रतन टाटा-असम दौरे पर पहुंचे पीएम मोदी, सात कैंसर अस्पतालों का करेंगे उद्घाटन-असम दौरे पर पहुंचे पीएम मोदी, सात कैंसर अस्पतालों का करेंगे उद्घाटन-विश्व मलेरिया दिवस-दुनिया का रक्षा खर्च 20 खरब डॉलर के पार पहुंचा, भारत भी टॉप 3 में शामिल

CBSE के सिलेबस पर लोक सभा में घमासान

0

संसद (Parliament) का शीतकालीन सत्र (Winter Session) जारी है. आज (सोमवार को) कांग्रेस (Congress) की अंतरिम अध्यक्ष और यूपी के रायबरेली से सांसद सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने लोक सभा (Lok Sabha) में सीबीएसई (CBSE) के सिलेबस का मुद्दा उठाया. सोनिया गांधी ने सीबीएसई के सिलेबस (CBSE Syllabus) में महिलाओं के लिए आपत्तिजनक कंटेट को लेकर आवाज उठाई. सोनिया गांधी ने कहा कि शिक्षा मंत्रालय को जेंडर के प्रति संवेदनशील होना चाहिए. लोक सभा में सोनिया गांधी ने कहा कि सीबीएसई के सिलेबस में महिलाओं को लेकर जो भी आपत्तिजनक कंटेट है, उसे तुरंत हटाया जाना चाहिए. महिलाओं का अपमान बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. सीबीएसई और शिक्षा मंत्रालय महिलाओं का अपमान करने के लिए माफी मांगे. सोनिया गांधी ने कहा कि क्लास 10 के अंग्रेजी की पेपर में एक एक्सरसाइज थी जिसमें घर पर किशोरों के बीच अनुशासनहीनता के लिए नारीवादी विद्रोह (Feminist Revolt) और पत्नी की दास्यमुक्ति (Emancipation Of The Wife) को दोषी ठहराया गया है. इसको सीबीएसई के सिलेबस से हटाया जाए. सांसद सोनिया गांधी ने कहा सीबीएसई से इतनी बड़ी गलती कैसे हुई इसकी समीक्षा की जानी चाहिए और तय करें कि महिलाओं के खिलाफ आपत्तिजनक कंटेट को सिलेबस में शामिल ना किया जाए. केंद्र सरकार पर हमलावार होते हुए सोनिया गांधी ने कहा कि शिक्षा मंत्रालय को सीबीएसई के सिलेबस और टेस्टिंग में लिंग संवेदनशीलता मानकों की समीक्षा करनी चाहिए.

Leave A Reply

Your email address will not be published.